हरिश्चंद्र गड पर ट्रेकिंग का मजा Harishchandragad fort

हरिश्चंद्र गड

हरिश्चंद्र गड महाराष्ट्र के अहमदनगर  जिले में पाचनई गांव के पास स्थित है। हरिश्चंद्र गड ट्रेकिंग के बहुत लिए प्रसिद्ध है। बहुत सारे ट्रेकर्स हर रोज इस किले पर ट्रेकिंग के लिए आते है। ऐसे में अगर आप ट्रेकिंग के लिए जा रहे हो। तो इस किले के बारे में पहले से जानकारी होनी चाहिए। हरिश्चंद्र गड पर जाने के लिए २-३ घंटे की चढाई करनी पड़ती है। तो उस हिसाब से आपको तैयारी करनी होगी।

Harishchandragad-fort-information-in-hindi
हरिश्चंद्र गड

पुणे ठाणे और अहमदनगर यह तीन जिले जिस जगह मिलते है। वहीं यह हरिश्चंद्र गड स्थित है।

कैसे पहुंचे हरिश्चंद्र गड

पुणे, मुंबई जैसे बड़े शहरों से हरिश्चंद्रगड का सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन इगतपुरी रेलवे जंक्शन है। जो की हरिश्चंद्रगड से ४१ KM दूर है। मुंबई या पुणे से इगतपुरी के लिए रेलवे मिल सकती ह। लेकिन रेलवे स्टेशन से आगे का सफर रस्ते से ही करना पडेगा।  

पाचनई तक आप गाड़ी से पहुंच सकते है। और गाड़ी की पार्किंग के लिए १००₹ तक चार्ज लगता है। और हर आदमी पर ३०₹ पर्यटन चार्ज लगाया जाता है। इसके बाद आप ट्रैकिंग की शुरुवात कर सकते है।  

कोकन कड़ा

हरिश्चंद्र गड के पास स्थित यह कोकणकडा हरिश्चंद्रगड का सबसे बड़ा आकर्षण है। यहासे सूर्योदय और सूर्यास्त देखना मतलब स्वर्ग के समान दॄश्य दिखाई पड़ता है। अक्सर लोग कोकण कड़ा से सूर्योदय और सूर्यास्त का मनमोहक दृश्य देखने के लिए ही हरिश्चंद्रगड पर आते है। ऐसा सुन्दर नजारा दुनिया में और कही देखने को नहीं मिलता होगा। 

Harishchandragad-fort-information-in-hindi
कोकन कड़ा

हरिश्चंदरेश्वर मंदिर

तारामति पर्वत पर कुल आंठ लेनी है। वहिपर हरिश्चंद्र गड पर यह प्राचीन मंदिर मंदिर है। लगभग १६ मीटर ऊंचा यह मंदिर काले पत्थर से ९ वे शतक में बनाया गया था। इसका निर्माण जंज राजा के समय में कराया गया था। मंदिर परिसर में आप बहुत से अन्य शिल्प भी देख सकते है। इस मंदिर में शिवलिंग के अलावा अन्य देवताओं की मूर्तियां भी है। याहिपर लगभग ८ शिलालेख भी है। जो संस्कृत भाषा में लिखे गए है। इसी मंदिर के सामने विष्णुतित्र्था नाम का कुंड है। 

Harishchandragad-fort-information-in-hindi
हरिश्चंदरेश्वर मंदिर



टिप्पणियाँ